Breaking News अन्य खबरें अपराध जम्मू और कश्मीर देश होम

Live जम्मू कश्मीर: अनंतनाग में सुरक्षाबलों ने मार गिराए चार आतंकी , चल रही सर्च ऑपरेशन

    By vimal shukla Bureau chief

 यह मुठभेड़ बिजबेहरा के सेकीपोरा इलाके में हुई मुठभेड़. सुरक्षा बलों और पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया है.

श्रीनगर : जम्‍मू और कश्‍मीर के अनंतनाग में शुक्रवार सुबह सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ में चार आतंकियों को मार गिराया है. यह आतंकी राष्‍ट्रीय रायफल्‍स की ओर से बिजबेहरा के सेकीपोरा में चलाए गए अभियान में मारे गए हैं. बताया जा रहा है कि अभी मारे गए आतंकियों की संख्‍या और बढ़ सकती है. शुक्रवार सुबह सुरक्षा बलों को इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी. इसके बाद शुरू किए गए तलाशी अभियान में आतंकियों की ओर से सुरक्षा बलों पर फायरिंग की गई. मुठभेड़ के बाद अभी तलाशी अभियान जारी है.

यह मुठभेड़ बिजबेहरा के सेकीपोरा इलाके में चल रही है. सुरक्षा बलों को इलाके में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी, जिसके बाद तलाशी अभियान चलाया गया था. इसी दौरान आतंकियों की ओर से फायरिंग शुरू हुई. सुरक्षा बलों और पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया है. सुरक्षा बल अब इलाके में तलाशी अभियान चला रहे हैं. उनका मानना है कि मारे गए आतंकियों की संख्‍या अभी और बढ़ सकती है.

बता दें कि इससे पहले 20 नवंबर को जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के चार आतंकवादी मारे गए और सेना का एक जवान शहीद हो गया था. मुठभेड़ में सेना के दो अन्य जवान घायल भी हुए थे।

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया था कि शोपियां जिले के नादिगाम में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने मंगलवार सुबह इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया गया था. उन्होंने बताया कि तलाशी अभियान के दौरान इलाके में छिपे आतंकवादियों ने दल (तलाश दल) पर गोलियां चलानी शुरू कर दी थीं।

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया गया, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हुई. शुरूआती गोलीबारी में सेना के 23 पैरा का एक जवान एच एस विजय घायल हो गया। उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्होंने दम तोड़ दिया.’’ उन्होंने बताया कि भीषण गोलीबारी में चार आतंकवादी भी ढेर हो गए और उनके शवों को मुठभेड़ स्थल से हटा लिया गया है।

प्रवक्ता ने बताया कि मारे गए आतंकवादियों की पहचान आबिद नजीर चोपन, बशरत नेनग्रू, मेहराजुद्दीन नजर और मलिकजादा इनाम-उल-हक के तौर पर हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवादी हिजबुल मुजाहिद्दीन से जुड़े थे और इलाके में सुरक्षा संस्थानों पर किए कई हमलों तथा लोगों पर किए अत्याचारों में शामिल थे.’’ प्रवक्ता ने बताया कि भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद सहित अपराध में संलिप्तता सिद्ध करने वाली सामग्री मुठभेड़ स्थल से बरामद की गई है. पुलिस ने मामला दर्ज जांच शुरू कर दी है।